sarfaraz khan smashed century ranji trophy final mumbai vs madhya pradesh

रणजी फाइनल, शतक जड़कर नम हुईं सरफ़राज़ की आँखें, 119 रन बनाकर नाबाद।

रणजी ट्रॉफी का फाइनल मुकाबला मध्य प्रदेश और मुंबई के बीच बेंगलुरू के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जा रहा है। मैच के पहले दिन मुंबई में 5 विकेट के नुकसान पर 248 रन बना लिए थे और दूसरे दिन लंच तक मुंबई का स्कोर बढ़कर 8 विकेट के नुकसान पर 351 रन जा पहुंचा है। 

मुंबई की ओर से बल्लेबाजी कर रहे सरफराज ने नाबाद 119 रन बनाए हैं और मुंबई को एक बड़े स्कोर की ओर ले कर जा रहे हैं। अगले सेशन पर में टीम की नजरें 400 का आंकड़ा पार करने पर जरूर होंगी। वहीं मध्य प्रदेश की टीम के गेंदबाज जल्द से जल्द मुंबई की पारी को समेटना चाहेंगे। 

बता दें कि रणजी ट्रॉफी के फाइनल के दूसरे दिन का पहला सेशन पूरी तरीके से मुंबई के नाम रहा है। 3 विकेट खोकर टीम ने 103 रन बनाए और इस दौरान सरफराज खान में सीजन का अपना चौथा शतक भी पूरा किया।

मुंबई के बल्लेबाज सरफराज खान का रणजी ट्रॉफी का यह सीजन बहुत शानदार रहा है। मध्य प्रदेश के खिलाफ फाइनल मुकाबले में इस बल्लेबाज ने अपना शतक पूरा करने के बाद सिद्दू मूसे वाला के स्टाइल में जश्न मनाया। अपने शतक के बाद सरफराज काफी इमोशनल नगर आए। शतक के जश्न के दौरान उनकी आंखें साफ तौर से नाम नजर आ रही थी।

सरफराज का छठवां मैच था इस छठे मैच में यह उनका चौथा शतक है। सरफराज खान ने सीजन में डेढ़ सौ से अधिक की औसत से 900 रन बनाए हैं तब तक पहुंचने के लिए सरफराज ने कोई 12 चौके लगाए हैं इस दौरान उन्होंने एक भी छक्का नहीं मारा।

सेंचुरी बनाते ही सरफराज ने एक रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। रणजी ट्रॉफी के 87 साल के इतिहास में सरफराज खान वो तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने 2 सीजन में 900 रनों के आंकड़े को पार किया है। इससे पहले यह कारनामा करने वाले खिलाड़ी थे अजय शर्मा और वसीम जाफर।

Leave a Comment

Your email address will not be published.