संयुक्त राष्ट्र (यूनाइटेड नेशंस) के बारे में जानिए

यूनाइटेड नेशंस को हिंदी में सयुक्त राष्ट्र कहते हैं। यह एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है। संयुक्त राष्ट्र की स्थापना 24 अक्टूबर 1945 को हुआ था। इसका संगठन द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद हुआ था। इसका मुख्य उद्देश्य विश्व में शांति कायम रखना ,मानव अधिकार सुरक्षित रखना,अंतरराष्ट्रीय कानून व्यवस्था बनाए रखना, सामाजिक प्रगति करना दुनिया के आर्थिक विकास में सहयोग करना  एवं राष्ट्रों के बीच मित्रता को बढ़ावा देना है।यह 24 अक्टूबर को पूरे विश्व में मनाया जाता है। आज दुनिया के करीब 193 देश संयुक्त राष्ट्र संघ के नियम व घोषणा पत्र के अंतर्गत कार्य करते हैं। यह विश्व के सबसे शक्तिशाली अनुसरणो में से एक है जिसका पालन चीन और अमेरिका जैसे देशों को भी करना पड़ता है। आई आपको इसके बारे में आगे और जानकारी देते हैं।

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव कौन है तथा इनका कार्यकाल कितने सालों तक का होता है ?

बता दे कि संत राष्ट्र की महासचिव एंटोनियो गुटेरेश है। यह पुर्तगाल के रहने वाले हैं। यह 1 जनवरी 2017 को संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बने थे। वर्तमान में भी एंटोनियो गुटेरेश ही संयुक्त राष्ट्र के महासचिव है। इनका कार्यकाल 8 साल तक का होता है। इसके सदस्यों की संख्या 54 है। प्रतिवर्ष इसके 75 प्रतिशत लोग पद मुक्त हो जाते हैं। परंतु यह पुनः चुनावों में निर्वाचित हो सकते हैं।

जरूर पढ़ें:  10 बिहार में मनाए जाने वाले पर्वों की सूची

संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय कहां है?

संयुक्त राष्ट्र का मुख्यालय न्यूयॉर्क शहर में है। यह मैनहैटन टापू न्यूयॉर्क शहर में स्थापित है।

संयुक्त राष्ट्र की आवश्यकता क्यों पड़ी? और ये क्या कम करता है?

क्या आपको पता है संयुक्त राष्ट्र की आवशकता क्यों पड़ी जैसे कि मैंने आपको पहले बताया कि यह विश्वयुद्ध के बाद बनी इसलिए इसकी जरुरत मानव अधिकार, विश्व शांति,आर्थिक,सामाजिक, सांस्कृतिक उलझन को सुलझाना था। परंतु इसकी आवश्यकता मुख्यता दो उद्देश्यों के कारण से पड़ी अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा बनाएं रखनी के लिए संयुक्त राष्ट्र की आवश्यकता पड़ती। इसी के लिए इसे बनाया गया था।

संयुक्त राष्ट्र बनाने का फैसला किसने किया था?

 24 अप्रैल 1945 द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद विजेता देशों ने मिलकर संयुक्त राष्ट्र बनाने का फैसला किया था। इसके लिए 50 देशों ने भी हस्ताक्षर किया था। वह चाहते थे कि भविष्य में दोबारा कभी ऐसे किसी युद्ध का सामना ना करना पड़े।जब संयुक्त राष्ट्र की बात चल रही थी तब करीबन 40 देश वहा उपस्थित थे।

जरूर पढ़ें:  भारत के राष्ट्रीय प्रतीक की सूची | National Symbols of India in Hindi

भारत संयुक्त राष्ट्र का सदस्य कब बना था?

भारत में पहली बार 1 जनवरी 1942 को वाशिंगटन में संयुक्त राष्ट्र के लिए हस्ताक्षर किया था। भारत में 25 अप्रैल से 26 जून तक सेन फ्रांसिस्को में संयुक्त राष्ट्र के अंतरराष्ट्रीय संगठन सम्मेलन में भी हिस्सा लिया था।भारत पहली बार राजनीतिक स्वतंत्रता समिति का अध्यक्ष भी बना था। भारत 1950 के ही दशक से इन अभियानों में शामिल होता रहा है।भारत ने अभी तक 43 शांति स्थापना अभियानों में भागीदारी की है। भारत सभी प्रकार के आतंकवाद के प्रति असहिष्णुता की दृष्टि से समर्थन करता है। भारत में संयुक्त राष्ट्र के 26 संगठन सेवाएं हैं। स्वयं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी संयुक्त राष्ट्रो के नियमो को बढ़ावा देते हैं।

संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख अंग कौन से हैं?

संयुक्त राष्ट्र के मुख्य 6 निम्नलिखित अंग है।

  1. आर्थिक एवं सामाजिक परिषद
  2. न्याय परिषद
  3. सचिवालय
  4. सुरक्षा परिषद
  5. महासभा
  6. अंतरराष्ट्रीय न्यायालय

संयुक्त राष्ट्र की भाषाएं कौन-कौन सी है?

संयुक्त राष्ट्र की मुख्यता 6 भाषाएं हैं। अरबी चीनी फ्रांसीसी रूसी स्पेनी अंग्रेजी संयुक्त राष्ट्र में इन भाषाओं की मान्यता बाकी भाषाओं से ज्यादा है। इन छह भाषाओं को राजभाषा भी कहा जाता है। परंतु इनमें से केवल 2 भाषाएं ही प्रयोग में लाई जाती हैं फ्रांसीसी और अंग्रेजी है।

जरूर पढ़ें:  न्यूट्रॉन की जानकारी | Neutron Ki Hindi Jankari

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button