12 महीनों के नाम हिंदी और अंग्रेजी भाषा में कैसे लिखते है जानिए ।

यहां पर हमलोग जानेंगे, हिंदी वर्ष के महीनों के क्या नाम होते हैं? हिन्दी नव वर्ष का प्रारंभ कब होता है? साल के सभी 12 महीनों के नाम किस आधार पर रखे गए हैं? वर्ष के कितने महीनों में 31 दिन होते हैं?

अंग्रेजी में तो हम सभी आसानी से याद कर लेते हैं १२ माहों के नाम वहीं जब बात आती है हिन्दी में बोलने और लिखने की तो हम सही से लिख या बोल नहीं पाते हैं। एक वर्ष में १२ महिने होते हैं हिन्दी हो या अंग्रेजी दोनों में। कैलेंडर में इसे बहुत अच्छे से विवरण किया गया है। प्राचीन समय से भारत कैलेंडर का इस्तेमाल करता आ रहा है। प्राचीन समय में भी लोग समय की जानकारी के लिए इस्तेमाल करते थे। दो पक्षों में हिंदी महीनों को बांटा गया है जिसमें पहला पक्ष कृष्ण पक्ष और दूसरा शुक्ल पक्ष होता है। शुक्ल पक्ष की पहली तिथि से माह का आरंभ होता है और पहला मास चैत्र मास कहलाता है। चैत्र मास से ही हिन्दू नव वर्ष का आरंभ होता है। अंग्रेजी में चैत्र मास मार्च या अप्रैल महीना में पड़ता है।

जरूर पढ़ें:  बिहार के राजकीय प्रतीक की सूचि | Bihar Ke Rajkiya Pratik Ki List Shuddh Hindi Mein

एक साल में 365 दिन होते हैं और 12 महीने। सबसे कम दिन वाला महीना फरवरी महीना होता है जो कि 28 या 29 दिनों का होता है। भारतवासी होने के नाते हर किसी को महीनों के नाम हिंदी में अवश्य याद रहनी चाहिए। जब अपनी भाषा ही हिन्दी है तो हिंदी में हर कुछ याद भी होना चाहिए ताकि कोई कभी पूछ भी दे तो हम आसानी से बता दे सकते हैं।

तो देखिए हिंदी में महीनों के नाम और उसके साथ यह भी जानें की किस आधार पर हिंदी महीनों की नाम लिखी गई है। एक बार ध्यान से पढ़ें फिर हमेशा अब हिंदी में भी महीनों के नाम ध्यान में रहेंगे। एक बार इसे कंठस्थ कर लें।

1 (१)चैत्र (मार्च – अप्रैल)
2 (२)वैशाख (अप्रैल – मई)
3 (३)ज्येष्ठ (मई – जून)
4 (४)आषाढ़ (जून – जुलाई)
5 (५)श्रावण ( जुलाई – अगस्त)
6 (६)भाद्रपद (अगस्त – सितंबर)
7 (७)अश्विन (सितंबर – अक्टूबर)
8 (८)कार्तिक (अक्टूबर – नवंबर)
9 (९)मार्गशीर्ष ( नवंबर – दिसंबर)
10 (१०)पौष (दिसंबर – जनवरी)
11 (११)माघ (जनवरी – फरवरी)
12 (१२)फाल्गुन (फरवरी – मार्च)

साल के सभी 12 महीनों के नाम किस आधार पर रखे गए हैं?

पहला: चैत्र नक्षत्र के नाम पर चैत्र मास है।
दूसरा: विशाखा नक्षत्र के नाम पर वैशाख मास है।
तीसरा: ज्येष्ठा नक्षत्र के नाम पर ज्येष्ठ मास है।
चौथा: आषाढऻ नक्षत्र के नाम पर आषाढ़ मास है।
पांचवां: श्रवण नक्षत्र के नाम पर श्रावण मास है
छटवां: भाद्रा नक्षत्र के नाम पर भाद्रपद मास है।
सातवां: अश्विनी के नाम पर अश्विन मास है।
आठवाँ: कृतिका के नाम पर कार्तिक मास है
नौवां: मृगशीर्ष के नाम पर मार्गशीर्ष या अगहन मास है।
दसवां: पुष्य के नाम पर पौष मास है।
ग्यारहवां: मघा के नाम पर माघ मास है।
बारहवां: फाल्गुनी नक्षत्र के नाम पर फाल्गुन मास है।

जरूर पढ़ें:  गर्मी छुट्टी पर हिंदी निबन्ध | Essay on Summer Vacation in Hindi

अंग्रेजी में महीनों के नाम और कितने दिन होते हैं किस महीने में?

जनवरी= 31
फरवरी= 28/29
मार्च= 31
अप्रैल= 30
मई= 31
जून= 30
जुलाई= 31
अगस्त= 31
सितंबर= 30
अक्टूबर= 31
नवंबर= 30
दिसंबर= 31

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker